Skip to main content

काले, घने और लम्बे बाल कैसे पाएं, देखभाल और उपाय



क्या आपके भी बाल झड़ रहे हैं, क्या आपके भी बाल असमय सफ़ेद हो रहे हैं, पतले और कमजोर हो रहे हैं ? यदि इन प्रश्नो का जवाब हाँ है तब तो यह पोस्ट आपके लिए ही है और इसे आपको न केवल जरूर पढ़ना चाहिए बल्कि अपने जीवन में इसे उतारना भी चाहिए।

काले,घने और लम्बे बाल हर लड़की का सपना होते हैं। काले,घने और लम्बे बाल न केवल आपके व्यक्तित्व की सुंदरता को बढ़ा देते हैं बल्कि ये आपके आत्मविश्वास में भी वृद्धि करते हैं।

आज की तारीख में लगभग सभी लोग बालों की इन समस्याओं से परेशान हैं। वे तरह तरह के तेल और शैम्पू प्रयोग करते है लेकिन समस्या ज्यों के त्यों बनी रहती है। कई बार तो इन केमिकल युक्त शैम्पुओं की वजह से समस्या और भी बढ़ जाती है। इसकी वजह से कई बार तो वे अवसादग्रस्त या निराश हो जाती है। दिमाग तनावग्रस्त और चिड़चिड़ा बना रहता है और किसी काम में मन नहीं लगता।

तो क्या इस समस्या का कोई समाधान नहीं है ? क्या बालों का झड़ना या गिरना रोका जा सकता है ?

निराश होने की जरुरत नहीं है। जिस प्रकार से हम अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बहुत सारे उपाय करते हैं उसी प्रकार हमारे बालों को भी उचित देखभाल और खानपान से स्वस्थ रखा जा सकता है। और जब बाल स्वस्थ रहेंगे तब उनका झड़ना भी रुक जायेगा, बाल घने और लम्बे भी हो जायेंगे।

बाल किन कारणों से झड़ते हैं ?

सबसे पहले तो हमें उन कारणों को जानना होगा जिनकी वजह से बाल झड़ते हैं और पतले होते जाते हैं। बालों के झड़ने या गिरने के मुख्य कारण हैं
  • बुढ़ापा
  • आनुवंशिक या पैतृक
  • बीमारी
  • गर्भावस्था
  • कुपोषण
  • थायरॉइड होना
  • केमिकलयुक्त शैम्पू या तेल का अत्यधिक प्रयोग
  • एलर्जी
  • रखरखाव में कमी
  • तेज धुप और प्रदुषण
कई बार भोजन में अधिक तेल मसालेदार चीजों के प्रयोग की वजह से भी बालों के गिरने की समस्या आती है। भोजन में अनियमितता और लापरवाही की वजह से वात पित्त और कब्ज रोग होते हैं जो पुरे शरीर के साथ साथ बालों पर भी प्रभाव डालते हैं।

हमारी आधुनिक जीवन शैली भी हमारे बालों पर काफी दुष्प्रभाव डालती है। आज की जीवन शैली में देर रात तक जागना, काम के आधिक्य की वजह से कम नींद लेना, मानसिक तनाव, क्रोध आदि एकदम आम बात है और इन सब चीज़ों का हमारे स्वास्थ्य पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। जाहिर है ये सारी चीज़ें हमारे बालों पर भी अपना असर दिखाएंगी। मानसिक तनाव, चिंता और अवसाद हमारे बालों को बहुत नुकसान पँहुचाते हैं।

तो क्या बालों की समस्या का कोई समाधान नहीं है ?

अगर आप ऐसा सोचते हैं तो आप गलत हैं। जिस प्रकार बहुत सारी बीमारियों को समय से इलाज करा कर ठीक किया जा सकता है उसी प्रकार हम अपनी जीवन शैली और बालों के रख रखाव पर उचित ध्यान दे कर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। कुछ मामलों में चिकित्सीय उपचार की जरुरत पड़ती है तो कुछ मामलों में घरेलु नुस्खों को अपनाकर इससे छुटकारा पाया जा सकता है। बुढ़ापे और अनुवांशिक कारणों को छोड़कर अन्य सभी बालों की समस्या उनकी उचित देखभाल करके दूर की जा सकती है।
Silhouette, Beauty, Salon, Hair Salon
बालों को कैसे और सप्ताह में कितनी बार धोएं

बालों की सफाई बहुत जरुरी है। किन्तु आप इसके लिए अपने बालों को प्रतिदिन धोते हैं तो वास्तव में आप अपने बालों को बहुत नुकसान पंहुचा रहे हैं। बालों को प्रतिदिन धोने से बालों के स्कैल्प से उत्पन्न नेचुरल तेल जो बालों को मजबूत और स्वस्थ बनाता है तथा उनकी रक्षा करता है वह नष्ट हो जाता है और बाल कमजोर हो जाते हैं जिससे वे झड़ने या गिरने लगते हैं।

बालों को रोज धोने की बजाय उन्हें सप्ताह में तीन या चार बार धोएं। इससे आपके बाल मजबूत और घने हो जायेंगे और उनमे प्राकृतिक चमक भी बरक़रार रहेगी। स्कैल्प आयल की वजह से शुरू शुरू में आपके बाल कुछ ऑयली दिखेंगे किन्तु बाद में वे सही दिखने लगेंगे।

अपने बालों को धुलने के लिए कभी गर्म पानी का प्रयोग न करें। गर्म पानी बालों को शुष्क बना देता है और ये काफी कमजोर हो जाते हैं। ठंडा पानी या सामान्य तापमान का पानी बालों को उनके प्राकृतिक अवस्था में रखता है जिससे वे मजबूत, सीधे तथा चमकदार बने रहते हैं।

गीले बालों को कैसे सुखाएं

गीले बालों को कैसे सुखाएं : गीले बालों को कभी भी हेयर ड्रायर से मत सुखाएं। ड्रायर की गर्म सेंक बालों को नुकसान पंहुचाती है और वे कमजोर हो कर गिरने लगते हैं। ड्रायर की बजाय आप तौलिये से हलकी थपकी देते हुए इन्हें सुखाएं। बालों को धोने के बाद इन्हें तौलिये में न तो बांधें और न ही कस कर ऐंठते हुए लपेटे। कोशिश करें कि वे प्राकृतिक हवा में सूखे। ऐसा करने से आपके बालों का गिरना और टूटना काफी कम हो जाता है और वे प्राकृतिक रूप से घने और चमकीले हो जाते हैं।
Woman, Hair Drying, Girl, Female, Person
बालों में कंघी कैसे करें

बालों में कंघी : गीले बालों में भूल कर भी कंघी न करें। ये बालों को काफी नुक्सान पँहुचाते हैं। महीन दांतों वाली कंघी की जगह चौड़े दांतों वाली कंघी का प्रयोग करें। बाल एकदम सूखे हों तभी महीन दांतो वाली कंघी या ब्रश का प्रयोग करें।

बालों को घुंघराले और स्टाइली लुक देने के लिए महिलाएं अकसर कर्लिंग आयरन और ब्लो ड्रायर का प्रयोग करती हैं। इस तरह के टूल्स का बराबर प्रयोग करने से बाल कमजोर और पतले होने लगते हैं। अतः इस तरह की चीज़ों को केवल कुछ ख़ास मौकों पर ही प्रयोग करें।

केमिकल युक्त शैम्पू के प्रयोग से बचें :

आज बाजार में कई तरह के शैम्पू उपलब्ध हैं। लेकिन आपको इनका प्रयोग बहुत ही सोच समझ कर करना चाहिए। कई शैम्पू में सोडियम लौरेल और लौरेथ नामक केमिकल पाया जाता है जो कि डिटर्जेंट में प्रयोग होता है ऐसे शैम्पू को बिलकुल ही प्रयोग नहीं करना चाहिए। ये बालों को नुकसान पंहुचा सकते हैं। इनकी जगह यदि हर्बल प्रोडक्ट यूज़ किया जाय तो अतिउत्तम। इसी तरह सिलकोन वाले कंडीशनर का प्रयोग भी काफी सावधानी पूर्वक करना चाहिए। संभव हो तो रीठा और शिकाकाई का प्रयोग करें। इनसे बालों की सफाई भी हो जाती है और बाल घने, लम्बे और चमकदार भी होते हैं। साथ ही हर्बल होने की वजह से ये बालों को कोई नुकसान भी नहीं पँहुचाते। इसके अलावा अलोए, अवोकेडो तेल आदि का प्रयोग भी बालों के लिए काफी लाभदायक होता है। ये बालों को घना और लम्बा बनाने के साथ साथ उनकी शाइनिंग को भी बनाये रखते हैं। जैतून का तेल बालों को न केवल मजबूत और स्वस्थ रखता है बल्कि यह एक अच्छा कंडीशनर भी है। जैतून का तेल बालों में लगाने के बाद बालों को शावर कैप से ढक कर कुछ घंटों के लिए छोड़ देना चाहिए। इसके बाद उन्हें किसी अच्छे शैम्पू से धो लेना चाहिए। इसके कुछ दिनों के प्रयोग से बालों में काफी सुधार आने लगते हैं।

जहाँ तक संभव हो बालों को ब्लीच, डाई तथा अन्य नुकसानदायक चीज़ों से बचाएं।

काले, घने और लम्बे बालों के लिए आपका भोजन कैसा हो

एक स्वस्थ शरीर पर ही सुन्दर और स्वस्थ बाल होते हैं। अतः आपको अपने भोजन पर पूरा ध्यान देना चाहिए। संतुलित और पोषक आहार आपके बालों के लिए उतना ही जरुरी है जितना आपके शरीर के लिए।

आपके भोजन में उचित मात्रा में फल,सब्ज़ियां और सलाद होना चाहिए। इन चीज़ों से बालों के लिए जरुरी विटामिन की पूर्ति होती है। अच्छे और मजबूत बाल के लिए विटामिन बी बहुत ही आवश्यक होता है। इसके लिए नियमित रूप से अंकुरित चने और मुंग का सेवन करना चाहिए।

आपके भोजन में प्रोटीन और फैटी एसिड भी उचित मात्रा में होना चाहिए। ये दोनों बालों को अच्छा पोषण देते हैं जिससे वे घने और लम्बे होते हैं। इसके लिए आपके भोजन में दालें, मीट,अंडे और मछली नियमित अंतराल पर होना चाहिए। ओमेगा 3 फैटी एसिड बालों के लिए काफी लाभदायक और आवश्यक होता है। सीफ़ूड, अंडे, सोयाबीन्स आदि बायोटिन के अच्छे स्रोत होते हैं अतः इन्हें भी अपने भोजन का हिस्सा बनायें।

बालों के अच्छे पोषण के लिए ड्राई फ्रूट्स बादाम,अखरोट, अवोकैडोस, ओलिव आयल आदि भी समय समय पर लेते रहें।
Breakfast, Fruit Salad, Eat, Fruits
कुछ चीज़ें जो बालों को नुकसान पंहुचती हैं उनसे बचें

ज्यादा समय तक धुप में रहना बालों को नुकसान पंहुचाता है। तेज धुप बालों को शुष्क और कमजोर बनता है। अतः यदि आपको ज्यादा देर तक धुप में रहना है तो बालों को स्कार्फ़ या हैट से ढक कर निकलें।

स्विमिंग पूल में तैराकी करते समय स्विम कैप पहने। पूल के पानी में क्लोरीन होता है जो बालो को नुकसान पंहुचता है। यदि बाल पानी के संपर्क में आ ही गए हैं तो उन्हें फिर किसी अच्छे से शैम्पू से धो लें।

वायु प्रदुषण भी आपके बालों को नुकसान पंहुचाता है अतः ट्रैफिक में निकलते समय बालों को ढक कर निकलें। ज्यादा पोलूटेड एरिया में कम समय व्यतीत करने का प्रयास करें।


बालों को कब ट्रीम करवाएं

कई बार बाल दोमुंहे हो जाते हैं। समय समय पर बालों की ट्रीमिंग करवाने से इसकी समस्या नहीं रहती है और साथ ही बाल घने और लम्बे भी होते हैं। थोड़ा थोड़ा बाल छंटवाने से ये जल्दी जल्दी बढ़ते हैं।


मानसिक तनाव और आपके बाल


मानसिक तनाव बालों को बहुत नुकसान पंहुचाता है अतः इससे बचें। शांत और प्रसन्नचित रहने का प्रयास करें। मैडिटेशन करें। यह मानसिक तनाव से होने वाले नुकसान को बचाता है।

योगा और व्यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

भरपूर आठ घंटे की नींद लें। यह आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अति आवश्यक है। आप स्वस्थ रहेंगे तभी आपके बाल भी स्वस्थ रहेंगे।
बालों की समस्या के लिए कब डॉक्टर से मिलें 
यदि आपके बाल जरुरत से ज्यादा झड़ रहें हैं और घरेलु उपाय करने से भी नहीं रूक रहे हों तो किसी अच्छे चिकित्सक से संपर्क करें। हो सकता है यह किसी दवा की वजह से हो या फिर किसी बीमारी जैसे थाइरोइड या मेनपॉज की वजह से ऐसा हो रहा हो। यह भी संभव है कि आपको किसी चीज़ से एलर्जी हो जिसकी वजह से आपके बाल गिर रहे हों। डैंड्रफ या बालों के स्कैल्प में खुजली भी इसकी वजह हो सकती है। डॉक्टर हेयर पुल टेस्ट, एलर्जी आदि की जांच करते हैं।

कुछ घरेलु उपाय जो आपके बालों को घना, मुलायम और लम्बा करने के साथ बालों का झड़ना रोक दे

  • प्याज का रस बालों के लिया बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके लिए कुछ प्याज को पीस कर उसे किसी महीन कपडे में छान लें। फिर इस रस को अपने बालों में हलके हाथों से मालिश करते हुए लगाएं।
  • आंवला कच्चा या उसका मुरब्बा नियमित रूप से सेवन करें। यह आपके बालों के लिए संजीवनी है। इससे न केवल बालों का झड़ना रुकता है बल्कि बाल काले और घने भी जो जाते हैं। आंवले का तेल भी बालों के लिए काफी लाभदायक होता है।
  • मेथी के दाने को रात भर पानी में भिंगो कर रख दें। सुबह इन्हें पीस कर उसे अपने बालों पर लगाएं। फिर अपने बालों को धों लें।
  • सप्ताह में एक बार मेंहदी लगाने से बालों की डाई भी हो जाती है और यह बालों को अच्छा पोषण भी देता है।
  • दो चम्मच नारियल के तेल में शीशम का तेल और अड़हुल के फूल का पेस्ट मिलकर उसे अपने बालों पर लगाएं। पनद्रह मिनट के बाद उन्हें धों लें। इसे आप सप्ताह में दो बार कर सकती हैं।
  • शिकाकाई, रीठा और आंवला को रात भर किसी लोहे के बर्तन में भिंगोकर रख दें। सुबह उससे अपने बालों को धोएं। इससे आपके बाल काले, घने और मुलायम होंगे।
  • कॉस्टर आयल में विटामिन इ का एक कैप्सूल खोलकर मिला लें। फिर इस मिश्रण को अपने बालों और स्कैल्प पर लगाएं।
  • बालों को मजबूत और घना करने के लिए तिल के तेल की मालिश भी बहुत अच्छी मानी जाती है।
  • एलोवेरा जेल और नारियल तेल के मिश्रण को बालों की जड़ों में लगाएं। बालों के लिए यह उत्तम औषधि है।
  • सरसो का तेल हल्का गर्म करके उसमे नारियल, तिल का तेल और कॉस्टर तेल मिलाएं। फिर इस मिश्रण से अपने बालों की मालिश करें। आपके बाल मजबूत और घने हो जायेंगे।
  • एलोवेरा आपके बालों के लिए वरदान है। इसके प्रयोग से बालों का झड़ना बंद हो जाता है और बाल स्वस्थ और चमकदार हो जाते हैं।
  • कॉस्टर आयल बालों के लिए एक आवरण का काम करते हैं। इसके प्रयोग से बाल घने और मुलायम हो जाते हैं।
  • अवोकेडो का तेल आपके बालों में अवशोषित होकर आपके बालों को उचित पोषण प्रदान करते हैं। इससे बालों को मजबूती आती है।
  • जैतून का तेल बालों के लिए एक प्राकृतिक कंडीशनर होता है। इसे अपने बालों पर लगाकर शावर कैप लगा कर कुछ घंटों के लिए छोड़ दें , संभव हो तो रात भर ऐसे ही रहने दें। फिर शैम्पू करें। आप अपने बालों में फर्क महसूस कर सकते हैं।
  • नारियल के तेल या युक्लिप्टस के तेल हलके गर्म करके रात में लगा कर छोड़ दें। इसके साथ ही अपने स्कैल्प यानि बालों की जड़ों को अपनी उँगलियों से अच्छी तरह से मसाज करें। इससे उनमे रक्त संचार सुचारु रूप से होने लगता है जो अच्छे और स्वस्थ बालों के लिए जरुरी होता है।

Popular posts from this blog

RPF Aur GRP Me Kya Antar Hai

ट्रेनों से सफर के दौरान अकसर हमें पुलिस वाले दिखाई पड़ जाते हैं। कभी ट्रैन के अंदर तो कभी प्लेटफार्म पर , कभी टिकट खिड़की के पास तो कभी माल गोदाम की तरफ। स्टेशनो पर जब भी पुलिस की बात चलती है तो जीआरपी और आरपीएफ का नाम जरूर आता है। पुलिस वालों को भी देखा जाता है तो उनके कंधे पर GRP या RPF लिखा मिलता है। बहुत कन्फ्यूजन होता है और अकसर हमारे दिमाग में यह बात आती है कि इन दोनों में फर्क क्या है। पुलिस तो दोनों हैं। आइए देखते हैं जीआरपी और आरपीएफ में क्या अंतर है ?

RPF aur GRP ka full form kya hota hai 

RPF का फुलफॉर्म होता है Railway Protection Force यानि रेलवे सुरक्षा बल जबकि GRP का फुलफॉर्म होता है Government Rail Police 

RPF Aur GRP Me Kya Antar Hai

RPF यानि रेलवे सुरक्षा बल एक सैन्य बल है जो सीधे ministry of railway के अंतर्गत आता है। इसका मुख्या कार्य रेलवे परिसम्पत्तिओं 
की सुरक्षा करना होता है। इसके अंतर्गत रेलवे परिसर में उपस्थित सारे सामान आते हैं। यह रेल मंत्रालय के प्रति जवाबदेय होता है। यह रेलवे स्टॉक , रेलवे लाइन , यार्ड , मालगोदाम इत्यादि बहुत सारी चीज़ों की सुरक्षा करता है। इन सम्…

ऐसा धन जिसे कोई चुरा नहीं सकता

ऐसा धन जिसे कोई चुरा नहीं सकता a motivational story
मोटिवेशनल स्टोरी 

"पापा पापा, बाबू ने मेरी ड्राइंग की कॉपी फाड़ दी है " बेटी ने रोते हुए शिकायत किया। "देखिए न, मैंने कितना कुछ बनाया था।" उसने फटे हुए पन्नो को जोड़ते हुए दिखाया। मैंने उसे चुप कराने की कोशिश की तो वह और भी ज्यादा रोने लगी। मैंने कहा अच्छा ठीक है चलो मै तुम्हे दूसरी कॉपी दिला दे रहा हूँ। मै कान्हा को बुलाया और खूब डांटा तो वह भी रोने लगा और बोला "दीदी मुझे कलर वाली पेंसिल नहीं दे रही थी।" अब दोनों रो रहे थे।  मैंने दोनों को समझाया। कान्हा तो चुप हो गया किन्तु इशू रोए जा रही थी। "मैंने इतने अच्छे अच्छे ड्राइंग बनाये थे , सब के सब फट गए।" वास्तव में इशू की रूचि ड्राइंग में कुछ ज्यादा ही थी। जो भी देखती उसे अपने ड्राइंग बुक में बना डालती, कलर करती और संजो कर रख लेती। मै उसको समझाने लगा देखो बेटी फिर से बना लेना, उसने कॉपी फाड़ी है किन्तु तुम्हारे हुनर को कोई नहीं छीन सकता। हुनर या टैलेंट ऐसी चीज़ है जिसे कोई नष्ट नहीं कर सकता। वह मेरे पास आकर बैठ गयी, मै उसके सर पर हाथ फेरने लगा वह अ…

पारस पत्थर : ए मोटिवेशनल स्टोरी

पारस पत्थर : ए मोटिवेशनल स्टोरी 

सोहन आज एक नयी एलईडी टीवी खरीद कर लाया था। टीवी को इनस्टॉल करने वाले मेकैनिक भी साथ आये थे। मैकेनिक कमरे में टीवी को इनस्टॉल कर रहे थे। तभी सोहन की बीबी उनके लिए चाय बना कर ले आयी। दोनों मैकेनिकों ने जल्दी ही अपना काम ख़तम कर दिया। सोहन नयी टीवी के साथ नया टाटा स्काई का कनेक्शन भी लिया था। चाय पीते पीते उन्होंने टीवी को चालू भी कर दिया था। उसी समय सोहन का पडोसी रामलाल भी आ गया। नयी टीवी लिए हो क्या ? उसने घर में घुसते ही पूछा।  हाँ लिया हूँ।  सोहन ने जवाब दिया। कित्ते की पड़ी ? यही कोई चौदह हज़ार की। हूँ बड़ी महँगी है। राम लाल ने मुंह बनाते हुए कहा। सोहन ने कहा मंहंगी तो है लेकिन क्या करें कौन सारा पैसा लेकर ऊपर जाना है। सोहन ने राम लाल को भी चाय पिलायी। चाय पीने के बाद राम लाल चला गया। सोहन अपने परिवार के साथ बैठ कर टीवी का आनंद लेने लगा।

इंसान अपने दुःख से उतना दुखी नहीं होता जितना दूसरे के सुख को देख कर

सोहन लकड़ी का काम किया करता था। खूब मेहनती था। अच्छा कारीगर था अतः उसके पास काम भी खूब आते थे।रात में अकसर दस बारह बजे तक वह काम किया करता था। इसी मेहनत का …