Skip to main content

Posts

Showing posts from August, 2019

Talent vs Good Communication Skill : A Motivational Story

स्नेहा तुम क्या कर रही हो ? तुम्हारा काम हुआ या नहीं ? टीचर ने लगभग चीखते हुए कहा। बस मैम बस अभी ला रही हूँ। करीब बीस मिनट बाद स्नेहा ने अपनी कॉपी पूरी की और मैम के पास जमा करके निकल ली। स्नेहा की परीक्षाएं चल रही थीं। आज आखरी पेपर था। पेपर देने के बाद स्नेहा अपनी सहेलियों के साथ बतियाती हुई घर चली गयी। उसकी सहेलियों में से एक थी अलका। अलका से उसकी खूब बनती थी। अलका भी उसे खूब मानती थी। स्नेहा और अलका थीं तो सहेलियां पर दोनों के स्वाभाव में काफी अंतर था। स्नेहा जहाँ शर्मीली, दब्बू  और अंतर्मुखी थी वहीँ अलका काफी बातूनी और उन्मुक्त स्वाभाव की लड़की थी। इसी वजह से स्कूल में अलका को बहुत ही तेज तर्रार और बुद्धिमान समझा जाता था। वह वाद विवाद प्रतियोगिताएं में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेती थी। कक्षा में भी हर प्रश्न का कुछ न कुछ जवाब जरूर देती थी।वास्तव में उसकी कम्युनिकेशन स्किल काफी अच्छी थी।  यही कारण था लोग उसे खूब पसंद करते और वह अपने स्कूल में काफी लोकप्रिय थी। सारे शिक्षक उसे बहुत मानते थे।


एकबार दोनों सहेलियां अपने क्लास में बैठ कर बातें कर रही थीं तभी एक नयी मैडम धड़धड़ाते हुए क्लास में घुसी…