Skip to main content

Posts

Showing posts from October, 2018

सोलह श्रृंगार कौन कौन से होते हैं

भारतीय समाज में शादी एक महत्वपूर्ण संस्कार माना जाता है। कहा जाता है कि शादी के बिना मनुष्य का जन्म अधूरा है। हिन्दू विवाह दूल्हा दुल्हन के लिए एक धार्मिक अनुष्ठान और एक दूसरे के प्रति वचन लेने का रस्म है जिसमे हमेशा साथ रहने और एक दूसरे की जिम्मेवारियों को निभाने के  वचन  लिए जाते हैं। यह जीवन में सबसे बड़ी ख़ुशी का अवसर भी होता है। अतः इसे एक उत्सब की तरह मनाया जाता है। यही कारण है कि इसमें साज श्रृंगार का बहुत महत्त्व होता  है।  लड़कियां इस दिन अपने जीवन का सर्वश्रेष्ठ श्रृंगार करना चाहती हैं। इन सारे श्रृंगारों में सोलह श्रृंगार का बहुत महत्त्व है। आइए देखते हैं ये सोलह श्रृंगार कौन कौन से होते हैं



श्रृंगार सामग्री के आधार पर यह चार तरह का होता है

रंग से सम्बन्धी श्रृंगार
कुमकुम और बिंदी  : दुल्हनों और शादी शुदा लड़कियों के लिए यह एक अनिवार्य श्रृंगार है। इसे सिंदूर से दोनों भौओं के बीच लगाया जाता है। आजकल इसकी जगह रेडीमेड बिंदी ने ले लिया है। 
 सिंदूर : यह लड़कियों के लिए शादी की निशानी होती है। इसे      सर्वप्रथम दूल्हा लड़की की मांग में लगाता है। 
काजल : इसे सुरमा भी कहते हैं। इसे दिए की …

Honey Trap Kya Hai Hindi Me Jankari

किसी भी देश के लिए उसकी सुरक्षा उसके सबसे महत्वपूर्ण  जिम्मेदारिओं में से एक होती है। इसके लिए सभी देश अपनी अपनी सेनाएं रखते हैं। सेनाओं के अलावा भी देश कई अन्य तरह से अपनी  सुरक्षा के लिए प्रयासरत रहते हैं। इसके लिए वे कई तरह के साधन आजमाते हैं। जासूसी उन्ही साधनों में से एक है।  यह देश के दुश्मनों के बारे में महत्वपूर्ण सुराग ला के देता है और देश सुरक्षित रहता है। जासूसी भी कई तरह से की जाती है और इन्ही विधाओं में से एक है हनी ट्रैप। 
औरत हमेशा से मर्द के लिए कमजोरी रही है। और इसी कमजोरी का फायदा उठा कर मर्दों से राज उगलवाने के लिए उसका इस्तेमाल हर युग में होता आया है। जो काम ताकत के बल पर न निकल सका हो वहां औरतें अपनी अदाओं से उसे आसानी से निकाल ले आती हैं। हनीट्रैप मानव स्वाभाव के इसी पहलु पर आधारित होता है। 

हनीट्रैप क्या है 

जिस प्रकार एक मक्खी शहद के लालच में उसपर आकर बैठ जाती है और उसका रस पीने के चक्कर में उसी में चिपक कर रह जाती है और उसके बाद लाख कोशिश के बावजूद उसे छुटकारा नहीं मिलता उड़ नहीं पाती है ठीक उसी प्रकार हनी ट्रैप अपना काम करता है। एक बार हनी ट्रैप में फसने के बाद श…

गलती : क्योंकि तुम औरत हो ........

उसने पहली गलती तब की थी जब वो छह साल की थी  कक्षा में प्रथम आ कर , भाई फेल हो गया था।  अतः उसकी पढाई  बंद करा दी गयी। 


दूसरी गलती उसने यों  कर दी कि जिद करके किसी तरह से दुबारा नाम लिखा के स्कुल तो जाने लगी  पर कुछ बरसों  बाद  उसने घर पर बताया की लड़के  स्कुल जाते समय फब्तियां कसते है।  नतीजा स्कुल फिर छुडवा  दिया गया।  

समय बिता अब उसकी शादी हो गयी थी।  उसे लगा की सब कुछ अब ठीक ठाक चलेगा पर यहाँ भी उससे एक गलती हो गयी  अपने साथ वो ढेर सारा दहेज़ नहीं ले गयी थी अतः  उसे घर से निकाल  दिया गया और वह मायके आ के बैठ गयी।  

इस बीच  माँ बाप मर गए और सारी जिम्मेवारी भाई भाभियों  की  हो गयी।  तभी एक गलती और हो गयी  जब उसने अपनी उल्टियों का राज बताया तो वो बड़े बाप का बेटा  निकला।  नतीजन उसे घर से निकाल  दिया गया। अब उसका जीवन उथल पुथल हो गया था। उसे समझ नहीं आ रहा था कि  क्या करे।  तभी एक सभ्य  सी दिखने वाली महिला  ने साथ चलने को कहा तो बहुत सोच समझ के उसने हां कहा और उसके साथ चली गयी। 

लेकिन उसने तय कर लिया था की अब कोई गलती नहीं करनी है।   अब उसके जीवन में  ठहराव एवं  स्थायित्व आ गया था। 

कुछ बरस बी…

China Dwara Nirmanadhin Artificial Ya Fake Moon Kya Hai Hindi Me Jankari

चाँद को जल्द ही आसमान में अपना एक साथी मिलने जा रहा है। जी हाँ चीन के वैज्ञानिक इस दिशा में बड़ी तेजी से काम कर रहे हैं। चीन के वैज्ञानिक 2020 तक आकाश में एक दूसरा चाँद लाने की तैयारी में जी जान से लगे हुए हैं। चीन के वैज्ञानिक पावर की समस्या से निबटने के लिए इस दिशा में काम कर रहे हैं। इसके लिए वे एक अर्टिफिशियल  चाँद बना रहे हैं। हालाँकि चीन में पावर कोई समस्या नहीं है फिर भी वे अपने पावर पर होने वाले खर्चे को कम करने के लिए इस दिशा में प्रयास कर रहे हैं।

क्या है फेक या अर्टिफिशियल चाँद 
अर्टिफिशियल चाँद मानव निर्मित एक उपग्रह होगा जो अंतरिक्ष में एक स्थान से सूर्य प्रकाशको  पृथ्वी के किसी निश्चित भाग पर परावर्तित करेगा। इसकी वजह से वहां रात में स्ट्रीट लाइट नहीं जलानी पड़ेगी और इस वजह से बिजली के खर्चे में बड़ी कमी आएगी। चीन में वैज्ञानिक इस दिशा में अग्रसर हैं और इसके लिए उन्होंने दक्षिण पश्चिम राज्य सिचुआन की राजधानी चेंगडु को चुना। यह चाँद 2020 तक अंतरिक्ष में भेजने की योजना है।इस चाँद को सिचांग सैटेलाइट लांच सेंटर सिचुआन से प्रक्षेपित किया जायेगा।  यह सूर्य के प्रकाश को अपने परावर्तक …

10 Upay Jo Aapke Drishtikon Ya Nazariye Ko Badal Ke Rakh Degi

एक बार एक जूते बनाने की कंपनी ने अपना बिजिनेस बढ़ाने के लिए कई देशों का सर्वे कराया। इसी क्रम में कंपनी ने अपने बन्दे को बिजिनेस की संभावनाओं का पता लगाने के लिए एक देश भेजा। बन्दे ने वहां जाकर देखा तो उसके आश्चर्य का ठिकाना न रहा। उसने देखा उस देश में कोई जूता तो जूता चप्पल तक नहीं पहनता । उसने तुरत कंपनी को अपनी रिपोर्ट भेजी। उसने अपने पत्र में लिखा यहाँ पर कंपनी अपना कोई ब्रांच न खोले यहाँ पर उनका बिजिनेस नहीं चल पायेगा क्योंकि जूते की यहाँ कोई डिमांड नहीं है। कुछ समय के लिए कंपनी अपना बिजिनेस विस्तार का प्लान स्थगित कर दिया। कुछ सालों पश्चात कंपनी ने फिर अपने बिजिनेस विस्तार हेतु उसी देश में एक दूसरे बन्दे को भेजा। दूसरा बन्दा वहां पंहुचा उसके भी आश्चर्य का ठिकाना न रहा जब उसने देखा उस देश में किसी के पास चप्पल तक नहीं था। लोग बड़े कष्ट से रास्ते पर चल रहे थे।उसने तुरंत कंपनी में अपनी रिपोर्ट भेजी यह जगह आपके बिजिनेस के लिए बहुत ही उपयुक्त है यहाँ पर आप  अपनी बड़ी से बड़ी प्रोडक्शन फैक्ट्री लगा सकते हैं यहाँ पर  हर एक घर में जूते की जरुरत है यहाँ एक बार प्रचार हो जाने के बाद जूते की इ…

Cricket ke 12 Azab Gazab Sanyog Ya Co incidence

क्रिकेट का खेल अपने रिकार्डों और रनों के लिए हमेशा ही दिलचस्प बना रहता है। दर्शक एक एक रिकॉर्ड को तारीख  के साथ याद रखते हैं। असंभव सा लगने वाला रिकॉर्ड पलक झपकते ही टूट जाता है। यही वजह है दर्शक और क्रिकेट प्रेमी क्रिकेट में असंभव कुछ भी नहीं मानते। कई बार इन कीर्तिमानों के साथ साथ कुछ ऐसे को इंसिडेन्स या संयोग बन जाते हैं जो लोगों को न केवल अचंभित करते हैं बल्कि अपने आप में एक रिकॉर्ड भी  हो जाते हैं।  पेश है क्रिकेट जगत के कुछ ऐसे ही अदभुत संयोग या coincidence :
सचिन तेंदुलकर ने 24 फ़रवरी 2010 को एकदिवसीय मैच में 200 रन बनाया था  ठीक यही वाकया क्रिस गेल ने 2015 में  215 रन बना कर दोहराया था लेकिन ख़ास बात यह थी कि यह दोहरा शतक भी फ़रवरी की उसी तारीख को बना था यानि 24 फ़रवरी। 
वीरेंदर सहवाग 219 रन, रोहित शर्मा 264 रन और सचिन तेंदुलकर 200 रन तीनो ने एकदिवसीय मैचों दोहरे शतक बना कर इतिहास रच दिया था लेकिन इन मैचों में एक ख़ास बात थी तीनों मैचों में भारत को 153 रनों से ही जीत मिली थी।  
ऑस्ट्रेलिया के डेनिस लिली ने अपना 300वा विकेट अपने 56 वे मैच में लिया था और तारीख थी 27 नवम्बर 1981  और भारत…

#metoo Campaign Kya Hai Hindi Me

एक बात तो साफ़ है  महिलाओं के प्रति पुरे विश्व में कहीं भी नज़र डालिए स्थिति एक सी दिखती है। चाहे वह वाइट कालर जॉब हो या फिर सामान्य मज़दूरी का काम हो , कहीं भी उनकी प्रतिभा और कौशल पर उनका महिला होना भारी पड़ जाता है।  इस पुरुष प्रधान  समाज में उनके हाँ और नहीं और उनकी चुप्पी का मतलब अपने हिसाब से निकाल लिया जाता है। उनके जॉब, उनके और भी दूसरे कामों के लिए उनका महिला होना उनकी मज़बूरी बन जाता है। चाहे जॉब पाना हो, जॉब को सुरक्षित रखना हो या प्रमोशन पाना हो हर जगह आपको अपने महिला होने की कीमत चुकानी पड़ती है। ऐसा नहीं है कि हर जगह यही स्थिति हो या किसी संस्थान में सारे कर्मचारी ऐसे ही हो पर ऐसी स्थिति नहीं है यह कोई गारंटी के साथ नहीं कह सकता।यह स्थिति बलात्कार या छेड़खानी से भी ज्यादा दुखद और अफसोसजनक होती है क्योंकि बलात्कार और छेड़खानी में तो एक बार अपराधी के खिलाफ एक्शन भी लिया जा सकता है किन्तु इस तरह के यौन शोषण, छेड़खानी में नौकरी भर पीड़िता को अपमान का घूंट पीना पड़ता है। अपराधी के साथ काम करना पड़ता है। जिसने हिम्मत की विरोध करने की उन्हें नौकरी से निकाल देने की धमकी मिलती है बदनामी जो ह…

Cricket Ke 25 Adbhut Aur Mazedaar Records Jinhe Jaane Bina Aap Nahi Rah Payenge

क्रिकेट विश्व के सबसे रोमांचक और रोचक खेलों में से एक है।   क्रिकेट सीरीज जब खेली जाती है तब इसके रोमांच में न केवल   खिलाडी बल्कि दर्शक भी सराबोर रहते हैं और जब क्रिकेट सीरीज   नहीं खेली जाती है तब भी इसकी दिलचस्पी कम नहीं होती। और   यह सब उसके रिकॉर्डों को लेकर होता है। दर्शक जुबानी सारे रिकॉर्ड   को याद रखते हैं। कई रिकॉर्ड तो इतने दिलचस्प और अनोखे होते   हैं  कि टूटने के बाद भी लोग उन्हें नहीं भूलते। प्रस्तुत है ऐसे ही   कुछ अदभुत और मज़ेदार रिकॉर्ड :

भारत दुनिआ का एक मात्र देश है जिसने 60 ओवर 50 ओवर और 20 ओवर केतीनों विश्व कप विजेता रह चूका है। 
इंग्लैंड दुनिया का एक ऐसा इकलौता देश है जो 60 ओवर, 50 ओवर और 20 ओवर के तीनों विश्व कप फ़ाइनल में पहुंच कर भी कभी विश्व विजेता नहीं बन सका। इंग्लैंड 1979 में 60 ओवर के विश्व कप में, 1992 में 50 ओवर के विश्व कप फाइनल तथा 2004 में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में तथा 20 ओवर के मैच में चैंपियंस ट्रॉफी 2013 के फाइनल में हार चूका है।  ऑस्ट्रेलिया ने  विश्व के पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 45 रनों से मेलबोर्न क्रिकेट ग्राउंड में 1877 में हराया था ठीक सौ…