Skip to main content

Mahilaon Dwara Ghar Baithe Karne wale 10 Business


आज के इस मंहगाई के युग में यह बहुत ही जरुरी हो चूका है कि परिवार में पति पत्नी दोनों कमाये। इसके साथ ही महिलाएं अपने घर के कामों से खाली हो कर चाहती हैं कि कुछ करें अपनी प्रतिभा को निखारे तथा साथ ही आत्मनिर्भर या स्वालम्बी बने। अधिकांश घरों में महिलाएं घर की जिम्मेदारिओं में ऐसी उलझी रहती हैं कि वे चाह कर भी कोई बड़ा बिजिनेस या जॉब नहीं कर सकती। बड़े बिजिनेस  या जॉब के लिए ज्यादा समय देना पड़ेगा और ज्यादा समय घर से बाहर गुजारना भी पड़ेगा जो कि कई बार संभव नहीं हो पाता। घर की जिम्मेदारिओं को इग्नोर कर व्यवसाय करने का असर परिवार और बच्चों पर पड़ने लगता है। तो क्या महिलाएं स्वालम्बी नहीं बने ? नहीं बिलकुल नहीं। तो आईये देखते हैं कुछ ऐसे व्यवसाय जो घर से किये जा सकते हैं और बहुत ही काम पूंजी में शुरू भी हो सकते हैं :


10 बिजिनेस जो महिलाएं घर बैठे कम पूंजी में शुरू कर सकती हैं :




टेलरिंग का व्यवसाय : कपड़े हर व्यक्ति की जरुरत है और फैशन के इस दौर में हर दूसरे दिन नए कपड़ों की डिमांड इस बिजिनेस को काफी अच्छा स्कोप देता है। थोड़ी ट्रेनिंग के साथ इस व्यवसाय को शुरू किया जा सकता है। यह अपने घर से किया जा सकता है। इसके लिए शुरू शुरू में एक सिलाई मशीन,कैची , मेजरमेंट टेप की आवश्यकता होगी जो कि बाद में आवश्यकतानुसार बढ़ाया जा सकता है जिसके लिए कुछ और महिलाओं को सैलरी या पर कपडे पर रखा जा सकता है। आपकी क्रिएटिविटी और आपकी सटीक सिलाई ग्राहकों में आपकी पैठ बना सकता है। इसके लिए शुरू शुरू में आपको घर घर जा कर महिलाओं से अपने व्यवसाय के बारे में बताना होगा, अपना मोबाइल नंबर देना होगा तथा यदि आप वहां से कपड़े लाने और सिले हुए कपडे उनके घर तक पहुंचने की व्यवस्था रखती हैं तो यह अति उत्तम होगा। ज्यादातर ब्लाउज ,नाईटी ,पेटीकोट और सूट के ग्राहक ही मिलेंगे  अतः इनकी अच्छी प्रैक्टिस होनी चाहिए। बड़े शहरों को तो छोड़ दीजिये छोटे शहरों और कस्बो में भी यह व्यवसाय खूब चलता है। नए नए डिजाइन के लिए इंटरनेट जिसमे की यूट्यूब इत्यादि का सहारा लिया जा सकता हैलेकिन सबसे बढियाँ खुद की अपनी क्रिएशन होती है जो वास्तव में यूनिक होती है। फिटनेस और सधी हुई सिलाई का विशेष ध्यान रक्खें। एक बार आपका काम ग्राहक को पसंद आ जाये तो काम की कमी नहीं रहती और आसानी से बारह से पंद्रह हजार महीने कमाए जा सकते हैं। 

ब्यूटी पार्लर का व्यवसाय : सुन्दर दिखना कौन नहीं चाहता।? मानव की यही मानसिकता इस व्यवसाय का आधार है। अपनी सुंदरता को निखारना हर महिला का शौक होता है। बहुत ही कम पूंजी में इस व्यवसाय को शुरू किया जा सकता है। इसके लिए घर के ही एक कमरे का इस्तेमाल किया जा सकता है। किन्तु इस व्यवसाय को शुरू करने के पहले आप ब्यूटीशियन का कोर्स जरूर से करलें। इससे आपको  इस काम की अच्छी जानकारी हो जाएगी तथा ग्राहक भी आप पर भरोसा करेंगे। इसके लिए आपको एक चेयर और सामने की दिवार पर एक बड़े से शीशे की आवश्यकता होगी। आप चाहें तो इसके लिए किसी कारपेंटर से अच्छा इंटीरियर भी करा सकती हैं। इसके साथ ही आपको कुछ क्रीम,फाउंडेशन ,ब्लीच ,पाउडर ,स्प्रे बॉटल ,कंघी ,कैची,मेहदी  इत्यादि की आवश्यकता पड़ेगी जो कि स्थानीय मार्किट में आसानी से उपलब्ध है। इस काम के लिए थोड़ा सा प्रचार भी जरुरी होता है आप चाहे तो घर घर खुद जा कर महिलाओं से मिल सकती हैं और अपने काम के बारे में बता सकती हैं। आपको अपने पारलर के लिए एक साइनबोर्ड की भी आवश्यकता होगी। इस बिजिनेस को आसानी से अपने घर के कामो के साथ ही किया जा सकता है। कस्टमर की संतुष्टि पर आपको आगे शादी वगैरह में दुल्हन को सजाने का भी आर्डर मिल सकता है जिसमे अच्छी कमाई हो जाती है। 



ट्रेनिंग सेंटर या Hobbey Classes  : यदि आपके पास सिलाई ,बुनाई ,कढ़ाई ,ड्राइंग ,बिउटिशन,टॉयज मेकिंग ,मेहदी,कुकिंग  आदि का ज्ञान है तो यह बिजिनेस आपके लिए ही है। आप अपने घर में ही इन सब का प्रशिक्षण देने के लिए एक सेंटर खोल सकती हैं। इसके लिए आपके घर में एक बड़ा सा कमरा चाहिए होगा। इसमें आप जिस चीज़ की ट्रेनिंग देना चाहती है उससे सम्बंधित आवश्यक फर्नीचर या अन्य सामान होना चाहिए। आपके पास सिलाई मशीन,कैची,पेंट ब्रश , क्रीम ,पाउडर ,ब्लीच , फॉउण्डेशन ,मेहदी ,टॉयज मेकिंग का सामान इत्यादि होना चाहिए। आप एक निर्धारित फीस ले कर सारे कोर्स का प्रशिक्षण दे सकती हैं। इसके लिए अच्छे प्रचार प्रसार की आवश्यकता होगी किन्तु एक बैच करलेने के बाद आपके स्टूडेंट ही आपको और स्टूडेंट दिलाते है। अगर आपके ट्रेनिंग से आपके छात्राएं संतुष्ट हैं तो फिर आपको स्टूडेंट्स की कमी नहीं रहेगी। 

कोचिंग सेंटर : यदि आपको पढ़ाना अच्छा लगता है तो आप अपने घर पर बच्चों के लिए कोचिंग सेंटर खोल सकती हैं और अपने ज्ञान के माध्यम से अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकती हैं।अच्छे टीचर की काफी डिमांड रहती है और छोटे बच्चों को लोग अपने आस पास ही पढ़ने के लिए भेजना चाहते हैं। साथ ही हर मोहल्ले में पढ़ने वाले बच्चों की कमी नहीं रहती।  इसके लिए आपको एक कमरे की आवश्यकता होगी साथ ही आपको कुछ बेंच तथा एक बड़े से टेबल की जरुरत होगी। आप जिस भी विषय को अच्छे से पढ़ा सकती हैं उसे अपने आस पास के बच्चों को पढाना शुरू कर दीजिये। धीरे धीरे बच्चों की संख्या बढ़ने लगेगी। 
Class, Discussion, Girls, Study, Child



टिफ़िन सप्लाई : शहरों में बहुत से लोग बाहर से काम करने आते हैं। दोपहर के लंच के लिए वे या तो होटल पर निर्भर रहते हैं या फिर घर से टिफ़िन ले कर आते हैं। कइयों के पास होटल तक जाने का टाइम नहीं रहता तो कई सुबह इतनी जल्दी घर से निकले रहते हैं कि उतना जल्दी टिफ़िन बन नहीं पाता। कई लोग तो होटल का खाना रोज रोज पसंद नहीं करते। ऐसे में यदि उन्हें घर की तरह समय पर गरम गरम खाना मिले तो उन्हें काफी अच्छा लगता है। महिलाएं इस काम को अपने घर से बखूबी कर सकती हैं। इसके लिए उन्हें एक लड़का रखना होगा जो सब जगह टिफ़िन पंहुचा सके। खाने की क्वालिटी और स्वाद काफी मायने रखते हैं।शुरू शुरू में दस बारह टिफ़िन और एक लड़के से काम चल सकता है किन्तु डिमांड बढ़ने पर आपको संख्या बढ़ानी होगी। बैंक,ऑफिस, हॉस्टल,शॉप्स इत्यादि से ज्यादा आर्डर मिलते हैं। कई बार एक ही जगह से कई कई टिफ़िन के आर्डर मिल जाते हैं। यह अच्छे मुनाफे वाला व्यवसाय है किन्तु इसमें खाने की टाइमिंग का ख्याल करना होगा। कॉस्मेटिक्स शॉप : यदि आप ऊपर बताये गए कामों को नहीं कर सकती तो भी निराश होने की जरुरत नहीं है। आप अपने घर पर ही कॉस्मेटिक्स की शॉप खोल सकती हैं। फैशन की सामग्री जैसे क्रीम,शैम्पू , सौंदर्य साबुन, सेनेटरी नैपकिन या पैड्स ,नेल पोलिश ,चूड़ी ,इमीटेशन ज्वेल्लरी या अर्टिफिशियल ज्वेल्लरी ,पॉउडर ,बिंदी ,लिपस्टिक , बच्चों के पैंपर्स आदि बहुत सारी चीज़ें हैं जो हर घर में लगभग रोज ही इस्तेमाल होती हैं। इन सभी चीज़ों में बहुत काम पूंजी लगती है पर इनकी बिक्री अच्छी खासी है। हफ्ते में एक बार बाजार जा कर किसी होल सेलर के पास से सारी चीज़ों को लाया जा सकता है। एक बार काम स्टार्ट होने के बाद होल सेलर खुद ही आपकी शॉप पर माल पंहुचा देते हैं। मोहल्ले की महिलाएं आपकी कस्टमर्स बन सकती हैं चुकी उन्हें सारी चीज़े बाजार भाव से ही और पास में ही मिल रही हैं। कई चीज़े तो वह बाजार में पुरुष विक्रेताओं से मांगने में झिझक महसूस करती हैं वो आपके महिला होने के नाते बेझिझक खरीद सकती हैं। 

चाइल्ड केयर : यदि आपको बच्चों से प्यार है और उनका साथ आपको अच्छा लगता है तो यह बिजिनेस आपके लिए ही है। शहरों में आज के ज़माने में पति पत्नी दोनों कामकाजी हो गए हैं। बड़े बच्चे तो अपना ख्याल रख सकते हैं पर छोटे बच्चों के लिए उनको समस्या होती है। काम पर बच्चों को ले जाना , माँ और बच्चे दोनों  असुविधाजनक होता है और साथ ही काम भी प्रभावित होता है। अतः बहुत सी महिलाओं ने चाइल्ड केयर का काम स्टार्ट कर दिया है। यहाँ लोग सुबह में अपने बच्चों को दे जाते हैं और फिर शाम को वापस आते समय वापस ले जाते हैं। दिनभर आपको बच्चों की देखभाल करनी पड़ती है साथ ही उनके खाने पिने का ख्याल भी रखना पड़ता है। साथ ही उनका मनोरंजन भी करना पड़ता है। यह काम आप अपने घर के काम के साथ ही कर सकती हैं। बच्चों को सँभालने के एवज में पेरेंट्स से निर्धारित फ़ीस मिलती है। 

यूट्यूब चैनल :यदि आप अच्छा खाना बनाती हैं, अच्छी एक्टिंग करती हैं ,डांस करती हैं सिलाई या कढ़ाई करती हैं या कोई भी हुनर आपके अंदर है तो उसे आप यूट्यूब पर अपलोड करके अच्छे खासे पैसे कमा सकती हैं। खाना बनाने की रेसिपी , बुनाई के नए नए डिजाइन , सिलाई की ट्रेनिंग ,डांस की ट्रेनिंग जो भी आप अच्छे से जानती हैं उसका विडिओ बना कर यूट्यूब पर अपने चैनल पर अपलोड कीजिये। जब उस पर अच्छी ट्रैफिक आने लगेगीं तो आपकी इनकम भी बढ़ने लगेगी। यूट्यूब चैनल बनाने ,विडिओ अपलोड करने इत्यादि के बारे में विस्तार से जानना है तो हमारे पिछले पोस्ट को पढ़े। यह ऐसा बिजिनेस है जो आपको पैसा और शोहरत दोनों दिला सकता है। शुरू में यह काम आप अपने स्मार्ट फ़ोन से भी कर सकती हैं। 

जिम/योगा क्लासेस   :आज कल लोग हेल्थ कॉन्शस हो गए हैं। हर कोई अपने शरीर पर ध्यान दे रहा है। महिलाएं अपने पेट को कम करने के लिए तथा कमर की चर्बी को घटाने के लिए ,स्लिम ट्रिम दिखने के लिए तथा विभिन्न बिमारिओं से बचने के लिए काफी चिंतित रह रही हैं। जिम और योगा सेंटर ज्यादातर पुरुषों द्वारा संचालित होने की वजह से वो वहां जाना नहीं चाहती। ऐसे में यदि आपके पास जिम या योगा का प्रशिक्षण है तो आप इसका सेंटर खोल कर महिलाओं  को स्वास्थ्य और निरोगी बना सकती हैं और साथ ही अच्छी खासी आय भी अर्जित कर सकती हैं। योगा सेंटर के लिए तो कोई पूंजी की भी नहीं लगानी पड़ती है पर जिम के लिए कुछ इन्वेस्ट करना पड़ सकता है।  महिला द्वारा संचालित होने से महिलाएं और लड़कियां अच्छी संख्या में आ सकती हैं। 



फैशन बुटीक : आपकी कल्पना शक्ति और आपकी क्रिएटिविटी इस बिजिनेस को काफी ऊचाँइओ तक ले जा सकती है। नए नए डिजाइन के कपडे ,सूट ,ब्लाउज महिलाओं को काफी पसंद आते हैं। अतः इस व्यवसाय को तभी शुरू करें जब आप डिजाइनिंग में कुशल हों। अच्छे डिजाइन किये हुए कपडे की अच्छी कीमत मिलती है। घर से इस काम को भली भाति किया जा सकता है। कुछ अच्छे और यूनिक डिजाइन के कपडे पहले से सिल कर कमरे में शोरूम  सजा कर रखना होगा। साथ ही अपने डिजाइन किये हुए फोट किए अल्बम या लैपटॉप रखना होगा। यह काफी मार्जिन वाला बिजिनेस है। आपको हमेशा फैशन के ट्रेंड को समझना होगा बल्कि उसमे भी कुछ नया करना होगा। 


दोस्तों ,ये तो थी उन व्यवसायों की जानकारी जिन्हे महिलाएं घर बैठे बिना पूंजी के या बहुत ही कम पूंजी से स्टार्ट करके एक सम्मानजनक आय अर्जित कर सकती हैं। कैसा लगा कमेंट में जरूर बताईगा। आगे हम जानेंगे कुछ ऐसे व्यवसायों के बारे में जिन्हे कोई भी महिला या पुरुष बिना पूंजी या बहुत काम पूंजी से स्टार्ट करके अच्छा खासा आय अर्जित कर सकते हैं। 

Comments

Popular posts from this blog

Dubai: Duniya Ki Sabse Unchi Buildingon Ka Shahar

दुबई का नाम आते ही दिमाग में एक ऐसे शहर का ख्याल आता है जो चकाचौंध से भरपूर हो , जहाँ चौड़ी चौड़ी सड़कें हों जिन पर महँगी महँगी गाड़ियां पूरी स्पीड से दौड़ रही हों, सर से पांव तक सफ़ेद कपड़ों में लिपटे शेख हों और जहाँ अकूत दौलत हो, जहाँ आसमान से बातें करती ऊँची ऊँची अट्टालिकाएं हों  ।
दुबई ने मात्र पांच दशकों में ही तरक्की और विकास की जो मिसाल कायम की है वह अपने आप में किसी आश्चर्य से कम नहीं है।  दुबई ने साबित कर दिया है की बुलंद इरादें और दूर दृष्टि हो तो कुछ भी असंभव नहीं है। आइये जानते हैं दुनिया के इस अदभुत और लाज़वाब शहर के बारे में वो सब जो इसे दुनिया का एक अनोखा स्थान बनाते हैं।




दुबई किस देश में है

दुबई UAE यानि संयुक्त अरब अमीरात के सात राज्यों में से एक राज्य है जिसे अमीरात बोला जाता है। यह भले ही संयुक्त अरब अमीरात का एक हिस्सा है फिर भी यह कई मामलों में उससे काफी अलग है। यहाँ अन्य इस्लामिक देशों की तरह पाबंदियां नहीं हैं। यहाँ आकर आपको बिलकुल ही महसूस नहीं होगा कि आप एक इस्लामिक देश में हैं बल्कि आपको ऐसा लगेगा जैसे आप न्यूयोर्क या मुंबई में हैं। यदि आपको अरबी नहीं आती तो भी आपका …

ICC Cricket World Cup 2019: Schedule (Time Table) And Venue

2019 के आगमन के साथ ही एकदिवसीय क्रिकेट विश्व कप की उलटी गिनती शुरू हो रही है और क्रिकेट प्रेमी बेसब्री से नए विश्व चैंपियन का स्वागत करने  के लिए अपनी आँखे बिछाए बैठे हैं। क्रिकेट का महाकुम्भ इस बार इंग्लैंड और वेल्स की धरती पर 30 मई 2019 से 14 जुलाई 2019 तक खेला जायेगा। डिफेंडिंग चैंपियन ऑस्ट्रेलिया पर जंहा अपनी बादशाहत को कायम रखने का दबाव होगा वहीँ मेज़बान इंग्लैंड को अपने घरेलु दर्शकों के बीच पहली बार इस कप को पाने  का दबाव होगा। यह विश्व कप का बारहवां संस्करण होगा। इसमें सभी दस टीमें भाग लेंगी। सभी टीमें राउंड रोबिन में एक दूसरे से भिड़ेंगी और अंक तालिका में सर्वोच्च स्थान पाने वाली चार टीमों में पहले और चौथे और दूसरे और तीसरे स्थान पर आने वाली टीमों में बीच सेमी फाइनल मैच होंगे। इन दोनों टीमों के विजेताओं के मध्य फाइनल मैच 14 जुलाई 2019 को खेला जायेगा।


भारतीय समयानुसार ICC क्रिकेट विश्व कप 2019 का शिड्यूल (टाइम टेबल) और वेन्यू

पहले राउंड में कुल 45 मैच खेले जायेंगे

Date, Time (IST) Between Venue

ICC World Cup: All Why, How, When and Whats

बहुप्रतीक्षित एकदिवसीय मैचों का ICC क्रिकेट वर्ल्ड कप का बारहवाँ संस्करण 2019 में इंग्लैंड और वेल्स में होने जा रहा है। इसमें जहाँ वर्तमान चैंपियन ऑस्ट्रेलिया अपने ख़िताब को बचाने उतरेगी वहीँ इंग्लैंड और न्यूजीलैंड तथा कई अन्य देशों के सामने इस विश्व कप को पहली बार अपने देश लेजाने का दबाव भी होगा। प्रतियोगिता रोबिन राउंड मुकाबले के आधार पर होगी जिसमे ऊपर की चार टीमों को सेमी फाइनल खेलने का मौका मिलेगा। सेमी फाइनल विजेताओं के बीच फाइनल मुकाबला होगा और विजेता टीम विश्व कप की  हक़दार होगी।
क्रिकेट का हर टूर्नामेंट बेहद ही रोमांचक होता है फिर तो यह विश्व कप का मुकाबला है। दर्शक जूनून की हद तक जाकर मैचों को देखते हैं और बड़ी ही बेसब्री से हर मुकाबले का परिणाम जानने की प्रतीक्षा करते हैं। दर्शकों में टूर्नामेंट के रिकार्ड्स के साथ साथ हर छोटी बड़ी बातों को जानने की उत्सुकता रहती है। क्रिकेट प्रेमियों की इसी जरुरत को पूरा करने के लिए प्रस्तुत है विश्व कप सम्बन्धी कुछ रोचक जानकारियां :



ICC वर्ल्ड कप 2019  में कितनी टीमें भाग ले रहीं हैं?

ICC वर्ल्ड कप 2019 में कुल दस टीमें भाग ले रहीं हैं  इंग्लै…